walt disney story in hindi

Walt Disney Biography in Hindi | वाल्ट डिज्नी

Sharing is caring!

Walt Disney वाल्ट डिज्नी का जन्म 5 सितम्बर 1901 को शिकागो में हुआ था | वो पांच भाई बहन थे | वाल्ट डिज्नी को बचपन से ही चित्रकला का बहुत शौक था | उन्होंने 7 वर्ष की आयु में ही अपना पहला चित्र अपने पडौसी को बेचा था | स्कूल के दौरान उन्होंने चित्रकला और फोटोग्राफी सीखी और एक पत्र के सम्पादक भी रहे | उन्होंने अकैडमी आफ फाइन आर्ट्स के रात्रि स्कूल में दाखिला ले लिया |

career 

स्नातक की उपाधि पाने के बाद वो सेना में जाना चाहते थे लेकिन कम उम्र की वजह से नही जा सके | इसके बाद Walt Disney रेडक्रॉस में शामिल हो गये और एम्बुलेंस चलाने लगे | कहते है कि उन्होंने एम्बुलेंस को रंग-बिरंगे कार्टूनों से सजा रखा था | कानवास सिटी लौटने के बाद उन्होंने विज्ञापनों के लिए कार्टून बनाना शूरू कर दिया | 1920 में वो Cartoon Animator बन गये | उन्होंने कड़ी मेहनत से ऐसी प्रक्रिया तैयार कर  ली जिससे Live Action और Animation का खुबसुरत मेल था |

कुछ वर्ष बाद Walt Disney अपनी ड्राइंग सामग्री और एक सम्पूर्ण एनीमेशन फिल्म में साथ हॉलीवुड आ पहुचे | तब तक वे अपनी एक कर्मचारी लिलियन से विवाह कर चुके थे और उनकी जुड़वाँ पत्निया थी | 1928 में वो मिक्की माउस पात्र के साथ सामने आये | उन्होंने “Plane Crazy ” नामक पहला मूक कार्टून बनाया | फिल्मो में उस समय तक आवाज की तकनीक विकसित नही हुयी थी | “स्टीम बिली ” में उन्होंने मिक्की माउस को एक स्टार की तरह पेश किया | 18 नवबर 1928 को न्यूयार्क में यह कार्टून दिखाया गया |

Walt Disney वाल्ट एक स्वप्नदर्शी अन्वेषक थे | वो अपने बेहतरीन एनीमेशन फिल्मो के लिए जुटे रहे | सिली सिफ्नीज के दौरान टैक्नीकलर एनीमेशन सामने आया | 1932 में “Flowers and  Trees ” के लिए उन्होंने बत्तीस में से पहला निजी एकादमी पुरुस्कार जीता | 21 सितम्बर 1933 को उनकी पहली लम्बी Animation फिल्म “Snow White and Seven Dwarfs ” लोस एंजेल्स के “कैरेथे सर्किल थिएटर ” में दिखाई गयी | फिल्म काफी महंगी थी परन्तु इतनी लोकप्रिय हुयी अपने व्यय से कही ज्यादा धनोपार्जन किया | व अब भी “Motion Film Industry” की सबसे बड़ी फिल्म मानी जाती है | अगले पांच सालो में “पिनोकियो ” “फंतसिया” “डम्बो” और  “बाम्बी ” जैसी सफल फिल्मे बनाई |

Walt Disney वाल्ट डिज्नी ने इन फिल्मो के अलावा टीवी के लिए भी कई सफल पारिवारिक शो तैयार किये | 50 के दशक में “Mickey Mouse Club ” और “जोरो ” काफी लोकप्रिय रहे | वाल्ट डिज्नी ने अपनी कल्पना से विश्व को आश्चर्य में डाल दिय | उन्होंने पुरी दुनिया से 950 से भी अधिक पुरुस्कार एवं सम्मान प्राप्त किये | उन्हें सात अकादमी और सात एमी पुरूस्कार पप्राप्त हुए | अनेक जाने माने विश्वविध्यालय ने उन्हें मांनद उपधिया प्रदान की |

1955 में उन्होंने 17 मिलियन के निवेश से “DisneyLand” तैयार किया | 1980 तक 250 मिलियन लोग वहा जा चुके थे |पुरी दुनिया की गणमान्य हस्तिया वहा जाकर मनोरंजन करने का सौभाग्य पा चुकी है | वाल्ट सही मायनों में कल्पना के जादूगर थे | 15 दिसम्बर 1966 को Walt Disney का निधन हो गया |

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
shares
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x