kamakhya Temple History in Hindi

kamakhya Temple History in Hindi

आरंभिक कामरूप के ऐतिहासिक साम्राज्य में वर्मन और क्ष्यण्शनग 7 वी सदी के चीनी यात्री ने कामाख्या की उपेक्षा की क्योंकि तब ऐसा माना जाता था की किराता की ब्राम्हिनी अम्बित की पूजा करनी चाहिए। कामाख्या की पूर्वलिखित सूचना के अनुसार 8 वी – 9 वी सदि मे तेजपुर में मंदिर के पुरातत्वीय सबुत मिले। …

kamakhya Temple History in Hindi Read More »