Sushant Singh Rajput biography in hindi

Sushant Singh Rajput biography in hindi

Sharing is caring!

Sushant Singh Rajput biography in hindi :-

सुशांत सिंह राजपूत का जन्म 21 जनवरी 1986 को पटना शहर (भारत) में हुआ। उनके पिताजी के के सिंह सरकारी अफसर थे। उन्हें चार बहने है। सुशांत सिंह राजपूत ने पटना के करेंस हाई स्कूल में पढाई की और आगे की पढाई दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल में की। उन्होंने दिल्ली में दिल्ली कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग में मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। अभी इस कॉलेज को दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी हा जाता है।

Sushant Singh Rajput Career :-

जब सुशांत सिंह राजपूत दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे थे तो उन्होंने शियामक दावर के डांस क्लास में दाखिला लिया था। क्लास ज्वाइन करने के बाद ही उनके दिमाग में खयाल आया की उन्हें एक्टिंग में करियर करना चाहिए। क्यों की जिस क्लास में वो डांस सिख रहे थे वहा के कुछ छात्र बारी जॉन के ड्रामा क्लास में भी जाते थे। उन छात्रों का प्रभाव सुशांत सिंह पर भी पड़ा और उन्होंने भी उस क्लास में जाना शुरू कर दिया।

वहापर उन्हें समझ में आया की वो बहुत ही अच्छी तरहसे एक्टिंग कर सकते है और उन्हें एक्टिंग करना पसंद भी आ रहा था।

कुछ महीनो के भीतर उन्हें दावर के अच्छे डांस ग्रुप में शामिल किया गया। 2005 में जो 51 वा फिल्मफेयर पुरस्कार समारोह हुआ था उसमे बैकग्राउंड डांसर्स के ग्रुप में सुशांत राजपूत भी थे। 2006 के कॉमनवेल्थ क्रीडा स्पर्धा का आयोजन ऑस्ट्रेलिया में किया गया था। उसमे सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया था। उसमे भी राजपूत को शामिल किया गया था।

उस वक्त वो अपनी इंजीनियरिंग की पढाई कर के काफी थक चुके थे और साथ ही पेपर में फ़ैल हो गए थे और पढाई में उनका मन भी नहीं लग रहा था। मगर उसी समय डांस और ड्रामा में उनकी रुची बढती ही जा रही थी। तभी उन्होंने इंजीनियरिंग छोड़ने का फैसला लिया और पूरी तरह से डासिंग और एक्टिंग पर ध्यान देना शुरू कर दिया था

फिल्मो में काम करने के लिए राजपूत मुंबई चले गए और वहा के नादिरा बब्बर के ‘एकजुट’ थिएटर में ढाई साल काम किया। उस दौरान उन्होंने टीवी पर नेस्ले मंच के विज्ञापन में काम किया। वो विज्ञापन पुरे देश में बहुत मशहूर हो गया था।

2008 में राजपूत एकजुट थिएटर के ड्रामा में एक्टिंग कर रहे थे तभी ‘बालाजी टेलेफिल्म्स’ की टीम ने उन्हें एक्टिंग करते हुए देखा था और सभी काफी प्रभावित भी हुए थे। उन्होंने कुछ दिन बाद ही राजपुत को ऑडिशन के लिए भी बुला लिया था और उन्हें ‘किस देश में है मेरा दिल’ शो में प्रीत जुनेजा का किरदार निभाने का मौका मिला था।

मगर जिस किरदार को उन्होंने निभाया था वो उस शो में बहुत ही जल्द मर जाता है। मगर उस शो में उनका किरदार लोगो को इतना पसंद आया की उन्हें उस शो के फिनाले मे आत्मा के रूप में फिर से बुलाया गया था। उनके इस कामयाबी को देखकर उनके घर के लोग भी काफी खुश थे।

जून 2009 से सुशांत सिंह राजपूत ने पवित्र रिश्ता सीरियल में एक बहुत ही समझदार और गंभीर मानव देशमुख का किरदार निभाया था। इस सीरियल में जिस तरह से उन्होंने एक्टिंग की उसकी सभी ने बहुत तारीफ़ की। इस सीरियल में उन्होंने जो किरदार निभाया उसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ट अभिनेता पुरस्कार दिया गया और साथ ही सबसे मशहूर अभिनेता पुरस्कार से भी सम्म्नानित किया गया।

यहाँ से ही उनके नए जिंदगी की शुरुवात हुई जिसकी वजह से उनका फिल्मो में जाने का रास्ता साफ़ दिख रहा था।

मई 2010 में राजपूत ‘जरा नचके दिखा 2’ डांस रियलिटी शो में भी नजर आये थे। पवित्र रिश्ता सीरियल में उन्होंने साबित तो कर ही दिया था की वो एक अच्छे अभिनेता है मगर उन्हें डांस को ओर भी बेह्तर बनाना था इसीलिए उन्होंने डांस ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया था।

जरा नच के दिखा शो में राजपुत मस्त कलंदर बॉयज टीम में थे। उन्होंने एक साथ पवित्र रिश्ता और जरा नचके दिखा 2 के लिए काम किया। मातृत्व दिवस के खास एपिसोड के लिए उनके टीम ने काफी शानदार प्रदर्शन किया और उनकी माँ को श्रद्धांजलि दी। उनकी माँ का 2002 में स्वर्गवास हो गया था।

दिसम्बर 2010 में उन्होंने ‘झलक दिखला जा 4’ डांस रियलिटी शो में भी हिस्सा लिया था। उस शो में उन्होंने कोरियोग्राफर शम्पा सोंथालिया के साथ में काम किया था। अक्टूबर 2010 में उन्होंने फ़िल्म मेकिंग का कोर्स करने के लिए परदेस जाना था इसीलिए उन्होंने पवित्र रिश्ता सीरियल को छोड़ देने का फैसला किया था

अभिषेक कपूर की ‘काई पो चे’ फ़िल्म में काम करने के लिए राजपूत ने ऑडिशन दिया था और उस फ़िल्म में मुख्य किरदार निभाने के लिए उनका चयन भी किया गया था और उन्हें राजकुमार राव और अमित साध के साथ में काम करने का मौका भी मिला। चेतन भगत की नावेल 3 मिस्टेक ऑफ़ माय लाइफ पर आधारित इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर काफी अच्छी कमाई भी की थी।

राजपूत की दूसरी फ़िल्म “शुद्ध देसी रोमांस” में परिणीती चोप्रा और वाणी कपूर नजर आयी थी। इस फ़िल्म को मनीष शर्मा ने निर्देशित किया था और इसका निर्माण यश राज फ़िल्म ने किया था। यह फ़िल्म लिव इन रिलेशनशिप पर आधारित थी और इसे राजस्थान के जयपुर में बनाया गया था।

सुशांत सिंह राजपूत को राजकुमार हिरानि की 2014 में रिलीज़ हुई ‘पीके’ फ़िल्म में आमिर खान और अनुष्का शर्मा के साथ काम करने का मौका मिला था। उनकी यह फ़िल्म बहुत सुपरहिट फ़िल्म साबित हुई थी और फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर काफी कमाई भी की थी।

2016 में नीरज पांडे की भारतीय क्रिकेटर महेन्द्रसिंग धोनी के जीवन पर आधारित फ़िल्म ‘‘एम. एस. धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’’ फ़िल्म में सुशांत सिंह राजपूत नजर आये थे। इस फिल्मे में उन्होंने भारतीय बल्लेबाज और टीम इंडिया के कप्तान महेंद्रसिंह धोनी का अहम किरदार निभाया था।

बॉक्स ऑफिस पर यह फ़िल्म सुपरहिट हुई और 2016 में सबसे अधिक कमाई करनेवाली फ़िल्म में इस फ़िल्म को शामिल किया गया था।

इस फ़िल्म में उन्होंने इतना शानदार किरदार निभाया था की उसके लिए उन्हे ‘फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ट अभिनेता पुरस्कार’ के लिए नामित भी किया गया था।

जून 2017 में दिनेश विजन की ‘राबता’ फ़िल्म आयी थी। उस फ़िल्म में सुशांत सिंह राजपूत कृति सेनन के साथ नजर आये थे।

सुशांत सिंह राजपूत की जानकारी मिलने ने बाद हमें पता चलता है की उन्होंने कभी भी फ़िल्म अभिनेता बनने का सोचा ही नहीं था। जब वो अपने कॉलेज की पढाई कर रहे थे तो उन्होंने केवल एक डांस क्लास जाना शुरू कर दिया था। वहापर वो बहुत ही कम समय में डांस सिख गए थे और वो डांस भी इतना अच्छा करते थे की उन्हें उनके क्लास के सबसे अच्छे डांस करने वाले ग्रुप में शामिल भी कर लिया गया था।

वहापर कुछ लडको की बाते सुनकर उन्होंने ड्रामा क्लासेज भी लगा लिए थे और उन्होंने एक्टिंग भी बहुत कम समय में सिख ली। जब उन्हें अहसास हुआ की वह डांस और एक्टिंग अच्छी कर लेते है तब उनके दिमाग में विचार आया की वो बॉलीवुड में भी बतौर अभिनेता काम कर सकते है। उन्होंने पहली फ़िल्म ‘कई पो चे!’ से साबित भी कर दिया की उनमे अच्छा अभिनेता होने की काबिलियत है।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
shares
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x