sandeep maheshwari biography in hindi

sandeep maheshwari biography in hindi

Sharing is caring!

संदीप माहेश्वरी बायोग्राफी :-

जबसे उन्होंने यह जान लिया तब से लगातार अपने आरामदायक स्थिति में बढ़ते चले जा रहे है और अपनी सफलता का रहस्य पूरी दुनिया के साथ Share कर रहे है।

बाद में वे लोगो की मदद  करने के लिए आगे बढे और वे कुछ ऐसा करना चाहते थे जिस से वे लोगो को सफलता पाने के लिए प्रेरित कर सके, और इसी के चलते उन्होंने लाइव “Free Life-Changing Seminars And Sessions” लेना शुरू किया।

इसमें कोई शक नहीं है की लाखो लोगो ने उनके द्वारा Share की हुई बातो से प्रेरित होकर उसे अपने भी जीवन में अपनाया होंगा। ये सब उनके अथक परिश्रम, परिवार के समर्थन और उनके साथियों पर उनके भरोसे ने सतत उन्हें आगे बढाया।

संदीप महेश्वरी का परिवार एलुमिनियम के व्यवसाय में था, जो बाद में बंद हो गया और फिर परिवार की जरूरतों को पूरा करने का दायित्व उन पर आया। और आशा के अनुरूप उन्होंने वो सब कुछ किया जो वो कर सकते थे।

संदीप एक Multi-National Company में शामिल हुए और घरेलु इस्तेमाल के सामान की Marketing भी की। उन्होंने कोई भी पत्थर अपने पीछे नहीं छोड़ा। वे हर तरह का काम करते गए जो उन्हें मिला।

उनकी इस अवस्था में उन्होंने जाना की उन्हें औपचारिक शिक्षा (Formal Edu.) से भी आगे की जरुरत है। इसलिए, एक होनहार विधार्थी बनने की बजाये दिल्ली के किरोरिमल कॉलेज के T.Y. B.Com को बिच में ही छोड़ दिया। अब उन्होंने निच्छय किया की उन्हें किसी और विषय का अभ्यास करना चाहिए जिसमे उनकी रूचि हो।

बहोत ही शानदार मॉडलिंग दुनिया से आकर्षित होकर, उन्होंने 19 साल की उम्र में मॉडल के रूप में अपना करियर शुरू किया। जहा मॉडल के परेशानियों और उनको शोषण का अनुभव उन्हें मिला। और यही उनके जीवन का टर्निंग पॉइंट बना जहा उन्होंने ये निच्छित किया की वे दुसरे मॉडल जो संघर्ष कर रहे हो उन्हें प्रेरित करेंगे।

छोटा ही सही, लेकिन यही उनका लक्ष था। बाद में 2 हफ्तों के फोटोग्राफी क्लास के बाद उन्होंने कई मनमोहक और सुन्दर तस्वीरे अपने कैमरे से निकली। उनमे कोई बदलाव नही आया था। वे तो बस अपनी मॉडलिंग दुनिया को बदलने के प्रयास में तीव्र इच्छा से आगे बढ़ते गये।

इसी प्रकार उन्होंने कुछ समय बाद अपनी खुद की कंपनी मैश ऑडियो प्राइवेट लिमिटेड का निर्माण किया और portfolios बनाना शुरू किया।

अगले साल 2002 में, उन्होंने अपने तिन मित्रो के साथ एक कंपनी स्थापित की जो 6 महीनो में ही बंद हो गयी। लेकिन संदीप महेश्वरी का दिमाग अभी भी खुला ही था। एक नयी संकल्पना दिल से “Sharing” के साथ उन्होंने अपने अब तक के पुरे अनुभवों को एक मार्केटिंग बुक में लिखा। तब वे सिर्फ 21 साल के थे।

वो 200३ था, जब मात्र 10 घंटे 45 मिनट में 122 मॉडल्स के 10000 से भी ज्यादा फोटो लेकर उन्होंने एक विश्व रिकॉर्ड बनाने वाली कंपनी का निर्माण किया। आशा के अनुरूप वे कभी नहीं रुके। उनका ध्यान केवल लोगो के कुछ समय के आकर्षण पर नहीं था, बलि वे तो अपने विचारो से समस्त मॉडलिंग दुनिया ही बदलना चाहते थे।

26 साल की आयु में उन्होंने ImageBazaar.Com को आरम्भ किया। वो साल 2006 था। अपना Business अच्छी तरह से सेट ना होने के कारण वो कई काम एक साथ करने लगे। वे एक वकिल बने, Tele-Caller बने और फोटोग्राफर बने, उन्होंने खुद की इच्छा से ही अपने आप को उन क्षेत्रो में डाला था।

आज, ImageBazaar में भारत की 1 करोड़ से भी ज्यादा फोटो है जो की विश्व में सबसे ज्यादा और साथ ही 45 देशो में 7000 से भी ज्यादा ग्राहक है। उनका ऐसा मानना था की, “फोटोग्राफी में सिर्फ काम नहीं बिकता वहा नाम भी बिकता है, और उन्हें अपना नाम कमाना था।”

संदीप माहेश्वरी ने मॉडलिंग की दुनिया में खुद को ही अपना आदर्श माना। क्यू की उनके अनुसार मुश्किलों और शोषण का सामना कर के एक बेहतरीन मॉडल सामने आ सकता है।

ये उनकी दुनिया बदलने वाला प्रयत्न था जब उन्हें 29 साल की आयु में युवा भारत का सबसे प्रसिद्द उद्योगपति चुना गया। बाद मे उनके विचार ही उनके भाषण का कारण बनी जैसे, “असफलता से कभी नहीं डरना” और “खुद के प्रति और दुसरो के प्रति सत्यवादी होना”।

एक सफल उद्यमी के साथ-साथ, दुनियाभर के लाखो-करोडो लोगो के सलाहकार, आदर्श और Youth Icon भी है। वे लगातार लोगो को प्रेरित करते रहे और उनका जीवन “आसान” बनाते गये और उनके इस अच्छे काम के लिए दुनिया भर से लोगो का साथ और प्यार मिलता गया।

उनका ईश्वरीय शक्ति से कभी ना टूटने वाला विश्वास उन्हें हमेशा शक्ति प्रदान करता था। सफलता के इस पहाड़ पर चड़ने के बाद भी उन्हें कभी पैसो का लालच नहीं आया।

इसीलिए आज उनकी प्रेरित करने वाली संस्था किसी मुनाफे के भरोसे नहीं चलती। वहा काम करने वाले हर एक व्यक्ति के बिच भावनात्मक बंधन होता है जो उन्हें एक दुसरे से और उस संस्था से जोड़े रखता है, और यही उनके लिए जरुरी है।

आज उनमे कई सारे संस्थाओ को निर्माण करने की क्षमता है लेकिन वो अपने खुद के द्वारा बनाये गये इस Status से ही संस्तुष्ट है।

उनका ऐसा मानना है की,

“अगर आपके पास आपकी जरुरत से ज्यादा कोई वस्तु हो तो आपको वो उन लोगो के साथ बाटनी चाहिए जिनको उस वस्तु की सबसे ज्यादा जरुरत हो।”

और इस तरह से परेशानियों की जड़ो में जाकर उन्होंने उन्होंने कई सारी सच्चाई लोगो के सामने लाइ, जैसे की, “पैसे ये पेड़ो पर बढ़ते है”,

“सफलता ये केवल कठिन परिश्रम पर निर्भर नहीं करती” और जबसे ज्यादा मजेदार “आसान कहकर भी किसी काम को आसानी से ना करना”।

अपने बुरे अनुभवों को ध्यान में रखना ही उनके जीवन का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट बना, उनका अनुभव ये बुरे अनुभव से ही बना।

संदीप महेश्वरी का ऐसा मानना है की चाहे आप कोई भी काम एक रुपये से शुरू करो या एक लाख से शुरू करो (अपने खुद के पैसो से), बस काम को शुरू करना बहोत जरुरी है, ये कोई मायने नहीं रखता के आपने उसे कितने पैसो से शुरू किया।

उनका लक्ष केवल लोगो को सुलझाना और कल के आने वाले उद्योगपतियों/लोगो/नेताओ को प्रेरित कर के भविष्य में सफलता के लिए मदत करना है।

Sandeep Maheshwari Award / उपलब्धिया —

  1. “व्यापार दुनिया” पत्रिका द्वारा भारत के सबसे होनहार उद्योगपति।

  2. “ET Now” चैनल के Tomorrow Award के अकेले हकदार।

  3. ग्लोबल यूथ मार्केटिंग फोरम द्वारा “स्टार यूथ अचिवर” का अवार्ड दिया गया।

  4. भारतीय उद्योग समिति द्वारा सन 2013 में Creative उद्योगपति का सम्मान।

  5. ब्रिटिश हाई कमीशन के ही भाग,ब्रिटिश काउंसिल द्वारा “ Creative युवा उद्योगपति” का अवार्ड।

  6. इसके भी अलावा, वे कई पत्रिकाओ (Magazine), अखबार और टेलीविज़न चैनल जैसे The Economic Times, इंडिया टुडे, CNBC-TV18 में भी उन्हें सम्मानित किया गया।

 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
shares
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x