Health Insurance in Hindi

Health Insurance in Hindi | हेल्थ इंश्योरंस से जुड़े 5 मिथक और उसके पीछे का सच

Sharing is caring!

Health Insurance in Hindi

Health Insurance एक ऐसा बीमा उत्पाद है जिसे हमेशा से ही गलतफहमियों ने घेर रखा है। खास तौर पर इसके विभिन्न rules और अनुछेदों को लेकर हमारे मन में बेवजह ही, बहुत सारी नकारात्मक भावनाएँ बन जाती हैं। इसीलिए ज़रूरी है की इन सभी गलतफहमियों को समय रहते खत्म किया जाये।

आपको समझना होगा की Health Insurance आखिर में एक तरह की बीमा Policies ही है, जिसका प्रमुख उद्देश्य आपको और आपके Family को सभी चिकित्सीय समस्याओं और उनपर होने वाले खर्चों से बचाना है। जितनी जल्दी आप इस बीमा योजना में भागीदार बनेंगे, आपके लिए policies लाभ उतना ही अधिक साकार होगा।

आइये हम मिलकर हेल्थ इंश्योरंस से जुड़े पाँच मिथकों की पड़ताल करें और जानें की उनमें कितनी सच्चाई है।

Myths Related to Health Insurance in Hindi

मिथक 1: अगर आप healthy हैं तो आपको Health Insurance की कोई ज़रूरत नहीं है

सच्चाई: हालांकि स्वस्थ रहना एक अच्छी आदत है, किन्तु अच्छा स्वास्थ्य आपको गंभीर बीमारियों और सड़क हादसे जैसी अनपेक्षित घटनाओं से पूरी तरह सुरक्षित नहीं कर सकता है। मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियाँ तो किसी भी व्यक्ति को अपनी चपेट में ले सकती हें।

इसके अतिरिक्त, सड़क हादसों में किसी को भी गंभीर चोटें आ सकती हैं। बीमारी या हादसा कोई भी हो, उसके इलाज में लाखों रुपयों तक का खर्च आ सकता है। ऐसी किसी भी परिस्थिति में Health Insurance आपके आर्थिक बोझ को काफी हद तक कम कर सकता है। इसीलिए Health Insurance लेना सभी के लिए ऐच्छिक नहीं, बल्कि एक ज़रूरी निवेश है।

Read more :- बीमा क्या है? इसके प्रकार और फायदे || What is Insurance Hindi?

मिथक 2: एम्प्लायर द्वारा दिया गया Health Insurance आपके लिए पर्याप्त है

सच्चाई: आजकल काफी सारे संगठन अपने कर्मचारियों को Corporate हेल्थ इंश्योरंस प्लान के तहत कवर मुहैया कराते हैं। लेकिन इस स्थिति में भी आप एक Personal हेल्थ प्लान की ज़रूरत को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते। आपकी कंपनी द्वारा दिया गया Health Insurance प्लान आपके बूढ़े माता- पिता या फिर अन्य आश्रितों को भी सुरक्षा प्रदान करे, ऐसा ज़रूरी नहीं है। इसके अतिरिक्त, आपकी Policies  तब तक ही लागू होगी जब तक आप अपने वर्तमान कार्यालय में काम कर रहे हैं। ( Myths Related to Health Insurance in Hindi )

इसीलिए आपको हर स्थिति में एक personal policies कवर लेना चाहिए। जैसे जैसे आपकी उम्र बढ़ती जाती है, आपके स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आती रहेगी, किन्तु Health  प्लान की निर्धारित प्रीमियम राशि में बढ़ोत्तरी होती रहेगी। इसीलिए आपको अपने और अपने परिवार के लिए एक Personal health प्लान जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी लेना चाहिए।

मिथक 3: धूम्रपान करने वाले व्यक्ति Health Insurance पाने योग्य नहीं होते हैं

सच्चाई: एक सर्वे के अनुसार, लगभग 49 प्रतिशत व्यक्ति जो धूम्रपान या फिर शराब का सेवन करते हैं, उनके मन में ये दुविधा रहती है की क्या वह Health Insurance लेने के योग्य हैं अथवा नहीं। हालांकि, ऐसे व्यक्तियों में हेल्थ रिस्क काफी अधिक होता है, किन्तु वह हेल्थ बीमा कवर लेने के लिए अयोग्य बिलकुल नहीं होते।

Read more :- मोटर वाहन अधिनियम 2019 के नियम, जुर्माना राशि | New Motor Vehicle Act India, 2019 in Hindi

बल्कि, ऐसे सभी व्यक्ति जो शराब का सेवन अथवा धूम्रपान करते हैं, उन्हें हेल्थ इंश्योरंस पाने के लिए थोड़ी अधिक Premium राशि का भुगतान करना होता है। साथ ही उन्हें थोड़े कठिन Health परीक्षण से गुजरना होता है। उसके बाद कहीं जाकर हेल्थ कवर प्राप्त होता है।

मिथक 4: आपको केवल Hospital में भर्ती होने पर ही भुगतान प्राप्त होता है

सच्चाई: यह सिर्फ एक गलतफहमी है की Health Insurance आपको सर्जरी के बाद हॉस्पिटल में भर्ती होने की स्थिति में ही कवर करता है। आजकल मेडिकल विज्ञान ने इतनी तकनीकी उन्नति कर ली है कि बहुत बार सर्जरी के बाद पेशेंट ( दर्दी ) को भर्ती होने कि आवश्यकता ही नहीं पड़ती है। मोतियाबिंद ऑपरेशन अथवा किडनी स्टोन हटाने जैसी डे-केयर प्रक्रियाओं के बाद पेशेंट बिना अस्पताल में भर्ती हुये, कुछ घंटों के बाद ही आसानी से घर वापस जा सकते हैं।( Myths Related to Health Insurance in Hindi )

इसीलिए जाने-माने इंश्योरंसकर्ता आपको अपने Health Insurance प्लान के अंतर्गत हॉस्पिटल में भर्ती होने के साथ साथ डे-केयर प्रक्रियाओं में होने वाले खर्चों का भी भुगतान करते हैं। इसके अतिरिक्त, कुछ हेल्थ प्लान आपको दंत चिकित्सा, Doctor परामर्श शुल्क, आयुर्वेदिक और यहां तक ​​कि यूनानी उपचार से जुड़े खर्चों का भी भुगतान प्रदान करते हैं।

मिथक 5: Health Insurance केवल टैक्स बचाने के लिए उपयुक्त होता है

सच्चाई: भारत में ज़्यादातर व्यक्ति Insurance पॉलिसियों को केवल टैक्स बचाने का एक माध्यम मानते हैं, जो कि कभी-कभार किसी आपातकालीन चिकित्सीय स्थिति में काम आ सकता है। लेकिन ऐसा सोचना सही नहीं है। Health Insurance आपको भविष्य में होने वाले सभी आकस्मिक मेडिकल खर्चों से निपटने में मदद करता है। साथ ही साथ आपको टैक्स में भारी छूट भी दिलाता है। किन्तु सिर्फ टैक्स बचाने के लिए किसी भी Health plan  में निवेश करना, आपको बहुत महंगा पड़ सकता है। इसीलिए ज़रूरी है कि आप policy पत्र को ध्यानपूर्वक पढ़ें और बीमा से जुड़ी सभी शर्तों को समझकर ही अपने लिए उपयुक्त Health Insurance का चुनाव करें।( Myths Related to Health Insurance in Hindi )

Read more :- How to give a great presentation? tips in Hindi | अच्छा प्रेजेंटेशन कैसे दें?

Health Insurance एक अत्यंत लाभकारी बीमा उत्पाद है। यह न केवल आपको दीर्घकाल में होने वाले सभी चिकित्सीय खर्चों से लड़ने में मदद करता है, बल्कि वर्तमान में आपको टैक्स में भारी छूट जैसे अतिरिक्त लाभ भी प्रदान करता है। किन्तु अधिकतर व्यक्ति Health Insurance को एक पेचीदा निवेश मानकर, इससे कतराते रहते हैं और व्यर्थ की धारणाएँ बनाते रहते हैं। आपको यह समझना चाहिए की Health Insurance आपको मानसिक शांति के साथ साथ बहुत सारी अन्य सहूलियतें देता है। आवश्यकता है तो बस अपने मन से हर तरह के भ्रम को निकालकर, इस सुविधा को अपनाने की।

-: Health Insurance in hindi

Read more :- Medicine Marketing Business in Hindi | शुरू करें मेडिसिन मार्केटिंग का बिजनेस

Follow on Quora :- Yash Patel

Health Insurance in Hindi

Health Insurance एक ऐसा बीमा उत्पाद है जिसे हमेशा से ही गलतफहमियों ने घेर रखा है। खास तौर पर इसके विभिन्न rules और अनुछेदों को लेकर हमारे मन में बेवजह ही, बहुत सारी नकारात्मक भावनाएँ बन जाती हैं। इसीलिए ज़रूरी है की इन सभी गलतफहमियों को समय रहते खत्म किया जाये।

Myths 1:- of Heath Insurance

अगर आप healthy हैं तो आपको Health Insurance की कोई ज़रूरत नहीं है
सच्चाई: हालांकि स्वस्थ रहना एक अच्छी आदत है, किन्तु अच्छा स्वास्थ्य आपको गंभीर बीमारियों और सड़क हादसे जैसी अनपेक्षित घटनाओं से पूरी तरह सुरक्षित नहीं कर सकता है। मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियाँ तो किसी भी व्यक्ति को अपनी चपेट में ले सकती हें।

Myths 2:- of Heath Insurance

सच्चाई: आजकल काफी सारे संगठन अपने कर्मचारियों को Corporate हेल्थ इंश्योरंस प्लान के तहत कवर मुहैया कराते हैं। लेकिन इस स्थिति में भी आप एक Personal हेल्थ प्लान की ज़रूरत को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते। आपकी कंपनी द्वारा दिया गया Health Insurance प्लान आपके बूढ़े माता- पिता या फिर अन्य आश्रितों को भी सुरक्षा प्रदान करे, ऐसा ज़रूरी नहीं है। इसके अतिरिक्त, आपकी Policies  तब तक ही लागू होगी जब तक आप अपने वर्तमान कार्यालय में काम कर रहे हैं।

Myths 3 :- of Heath Insurance

धूम्रपान करने वाले व्यक्ति Health Insurance पाने योग्य नहीं होते हैं
सच्चाई: एक सर्वे के अनुसार, लगभग 49 प्रतिशत व्यक्ति जो धूम्रपान या फिर शराब का सेवन करते हैं, उनके मन में ये दुविधा रहती है की क्या वह Health Insurance लेने के योग्य हैं अथवा नहीं। हालांकि, ऐसे व्यक्तियों में हेल्थ रिस्क काफी अधिक होता है, किन्तु वह हेल्थ बीमा कवर लेने के लिए अयोग्य बिलकुल नहीं होते।
 

Myths 4 :- of Heath Insurance

आपको केवल Hospital में भर्ती होने पर ही भुगतान प्राप्त होता है
सच्चाई: यह सिर्फ एक गलतफहमी है की Health Insurance आपको सर्जरी के बाद हॉस्पिटल में भर्ती होने की स्थिति में ही कवर करता है। आजकल मेडिकल विज्ञान ने इतनी तकनीकी उन्नति कर ली है कि बहुत बार सर्जरी के बाद पेशेंट ( दर्दी ) को भर्ती होने कि आवश्यकता ही नहीं पड़ती है। मोतियाबिंद ऑपरेशन अथवा किडनी स्टोन हटाने जैसी डे-केयर प्रक्रियाओं के बाद पेशेंट बिना अस्पताल में भर्ती हुये, कुछ घंटों के बाद ही आसानी से घर वापस जा सकते हैं।

Myths 5 :- of Heath Insurance

Health Insurance केवल टैक्स बचाने के लिए उपयुक्त होता है
सच्चाई: भारत में ज़्यादातर व्यक्ति Insurance पॉलिसियों को केवल टैक्स बचाने का एक माध्यम मानते हैं, जो कि कभी-कभार किसी आपातकालीन चिकित्सीय स्थिति में काम आ सकता है। लेकिन ऐसा सोचना सही नहीं है। Health Insurance आपको भविष्य में होने वाले सभी आकस्मिक मेडिकल खर्चों से निपटने में मदद करता है। साथ ही साथ आपको टैक्स में भारी छूट भी दिलाता है। किन्तु सिर्फ टैक्स बचाने के लिए किसी भी Health plan  में निवेश करना, आपको बहुत महंगा पड़ सकता है।

What is Health Insurance in hindi

आपको समझना होगा की Health Insurance आखिर में एक तरह की बीमा Policies ही है, जिसका प्रमुख उद्देश्य आपको और आपके Family को सभी चिकित्सीय समस्याओं और उनपर होने वाले खर्चों से बचाना है। जितनी जल्दी आप इस बीमा योजना में भागीदार बनेंगे, आपके लिए policies लाभ उतना ही अधिक साकार होगा।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
shares
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x